Logo
ब्रेकिंग
हेरिटेज ट्रेन चलाने का खेल!....वेबसाइट पर नो रूम व लंबी वेटिंग, ट्रैक पर ट्रेन चल रही पूरी खाली एक्सेस पेमेंट का टेरर...भुगतान के बाद स्टेबल की प्रकिया, अब वसूली की तैयारी एक्सेस पेमेंट का टेरर....रेलवे में बांट दिया अतिरिक्त पेमेंट, रिटायर्ड कर्मचारी के खाते में भी आता र... रक्तदान का पुण्य काम....पूर्व अध्यक्ष स्व. उमरावमल पुरोहित की याद में 55 यूनिट रक्तदान रेलवे डीजल शेड के एएमएम के खिलाफ महिला कर्मचारियों ने लगाया उत्पीड़न का आरोप ट्रेनों में चोरों की मौज....एक ही दिन में पांच ट्रेनों का निशाना, गहनें व रुपए से भरे बैग चोरी आज का एमएलए...सैलाना विधायक कमलेश्वर डोडियार पर आखिर प्रकरण दर्ज गौरवपूर्ण इतिहास....एआईआरएफ के नाम भारत सरकार ने डाक टिकट किया जारी मिनी मैराथन के दो हीरो...एथलीट जूलियस चाको व इंदु तिवारी की सफलता को किया सलाम वार्षिकोत्सव एवं बासंती काव्य समागम... इंद्रधनुषी छटाओं से सजी रचनाओं से श्रोता हुए मंत्रमुग्ध

कोविड में हजारों मरीजों की बचाई जान, कॉलेज का नाम रोशन हुआ, डॉक्टर्स का सपोर्ट किया, एवज में मारपीट कर यह सिला दिया…

-कॉलेज के स्टाफ द्वारा मारपीट से सकते में कॉलेज डीन जितेंद्र गुप्ता ने बताई अपनी बात

न्यूज़ जंक्शन-18
रतलाम। मेडिकल कॉलेज में डीन डॉ. जितेंद्र गुप्ता के साथ मारपीट के बाद पुलिस ने बुधवार सुबह कॉलेज परिसर स्थित इनके फ्लेट पर पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया। डॉ. गुप्ता ने उनके साथ घर पर बीती रात हुई मारपीट के बारे में पुलिस को पुख्ता जानकारी दी। घटना के बाद डीन डॉ. गुप्ता सकते में है। उनका कहना है कि कोविड के दौरान हजारों मरीजों की जान बचाकर प्रदेश स्तर पर कॉलेज का नाम रोशन किया। सभी डॉक्टर्स को सपोर्ट किया। इसका उन्हें यह सिला दिया गया।
मालूम हो कि मेडिकल कॉलेज में मंगलवार की रात करीब नौ बजे डीन डॉ. जितेंद्र गुप्ता और मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन (एमटीए) अध्यक्ष डॉ. प्रवीणसिंह बघेल के बीच मारपीट का मामला औद्योगिक क्षेत्र थाने पहुंचा था। (एनेस्थीसिया) डॉ. राहुल मैड़ा की पत्नी की मंगलवार को सीजर से डिलीवरी हुई। प्राइवेट वार्ड में भर्ती करने से इंकार करने की बात को लेकर विवाद निर्मित हुआ। डॉ. मैड़ा व साथी डॉक्टर खफा हो गए तथा एमटीए अध्यक्ष के साथ गुप्ता के घर रात में पहुंचे। दोनों पक्षों के बीच विवाद हुआ। नौबत मारपीट तक पहुंच गई। डीन डॉ. गुप्ता की ओर से थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। वहीं दूसरे पक्ष का आवेदन लिया गया है।

कोविड के बाद बंद है प्राइवेट वार्ड, इसलिए किए अन्य इंतजाम

विवाद की वजह कॉलेज के एक असोसिएट (एनेस्थीसिया) डॉ. राहुल मैड़ा की पत्नी की मंगलवार को सीजर से डिलीवरी हुई तथा बगैर स्वीकृति के प्राइवेट वार्ड में भर्ती करना रही है।
दरअसल कोविड के बाद से 22 कमरों का प्राइवेट वार्ड बंद है। यहां नर्सिंग स्टाफ सहित अन्य उपकरणों के इंतजाम नहीं है। डीन डॉ. जितेंद्र गुप्ता ने यहां के बजाय उन्हें गायनिक वार्ड के सुविधायुक्त कक्ष में भर्ती करने को कहा। इससे नाराज एमटीए के सदस्यों में आक्रोश फैल गया। एमटीए अध्यक्ष डॉ. प्रवीणसिंह बघेल अपने कुछ साथी डॉक्टरों के साथ डीन डॉ. गुप्ता से मिलने उनके निवास पहुंच गए। यहीं पर विवाद व झूमाझटकी के साथ ही गुप्ता के साथ मारपीट की गई। मंगलवार थाने में रिपोर्ट के बाद डॉ. गुप्ता ने सुबह पूरा मामला घर पहुंची पुलिस को बताया। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की लोकेशन देखी तथा घटना के बाद रात में मौके पर पहुँचे पड़ौसी डॉ. कोमल निखार के कथन लिए।
मामले में न्यूज जंक्शन से चर्चा में डीन डॉ. गुप्ता ने बताया कि डॉ. प्रवीणसिंह बघेल, राजेंद्र डाबर तथा शैलेन्द्र चौहान मंगलवार रात घर आए। उन्होंने मेरे साथ मारपीट की। बल्कि पत्नी के साथ भी गाली गलौज की। कॉलेज में सभी व्यवस्था माकूल है। लेकिन चुनिंदा लोग जातिवाद फैलाकर माहौल खराब कर रहे है।
इधर, घटना को लेकर दूसरे पक्ष में सुबह कॉलेज परिसर में जमा होकर पुलिस को ज्ञापन भी सौंपा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.