Logo
ब्रेकिंग
एमडीडीटीआई संस्थान में मनाया गया महापरिनिर्वाण दिवस, पौधरोपण कर डॉ. अम्बेडकर को किया याद टायर बस्ट होते ही पेड़ से जा टकराई कार, बाल-बाल बचा चालक भा गए भैयाजी...रतलाम के मन में भैयाजी, जनता के मन में भरोसा... ईमानदारी और निष्ठा के साथ राजनीति की जाए, तो जनता सर आंखों पर बिठाती है - विधायक चेतन्य काश्यप 5 विधानसभा सीटों में से 4 पर भाजपा की जीत, सैलाना से डोडियार ने बाजी मारी मैं और मेरी कविता रेलवे मटेरियल विभाग की घूसखोरी...12 स्थानों पर तलाशी में मिले काली कमाई के सबूत, आरोपी आज होंगे न्या... इस मैसेज ने रेलवे जोन में फैलाई सनसनी...मटेरियल विभाग के तीन डिप्टी सीएमएम को किया सीबीआई ने ट्रेस डीआरएम की सहमति: डीजल शेड पहुंचने के लिए बनेगी डेढ़ किलोमीटर एप्रोच रोड, वर्क ऑर्डर जारी बड़ी जीत : क्रमिक भूख हड़ताल 98वें दिन खत्म, उज्जैन लॉबी के पद यथावत रहेंगे

पुरषोत्तम मास : चुंदड़ी व लहरिया की वेशभूषा में महिलाओं के बीच हुए मनोरंजक व धार्मिक आयोजन

-श्री गुर्जर गौड़ ब्राह्मण नगर महिला सभा के आयोजन में उत्साहित दिखी समाज की महिलाएं।

न्यूज़ जंक्शन-18
रतलाम। पुरुषोत्तम मास के श्रावण माह में श्री गुर्जर गौड़ ब्राह्मण नगर महिला सभा अध्यक्ष सविता तिवारी, रीता तिवारी, ममता तिवारी व शीतल तिवारी द्वारा धार्मिक उत्सव आयोजित किया गया। जिसमें भारतीय परंपरा से सजी-धजी महिलाए चुंदड़ी व लहरिया में उपस्थित रही।
कार्यक्रम की शुरुआत सामूहिक प्रार्थना ‘इतनी शक्ति हमें देना दाता’ के साथ कि गई। ममता तिवारी व शीतल तिवारी द्वारा स्वागत नृत्य प्रस्तुत किया गया।
इस अवसर पर मैचिंग वाला गेम, अभिभावकों की तस्वीर पर्स में मिलने वाला टास्क, उपयोगी ज्ञानवर्धक धार्मिक प्रश्नावली में रोचक प्रश्न और उनके धार्मिक ज्ञान बढ़ाने वाले उत्तर देने जैसी गतिविधियां आयोजित की गई। इसके माध्यम से समाज की महिलाओं में धर्म और संस्कृति का प्रचार कर धार्मिक वृक्ष की जड़ मजबूत की। साथ ही सही उत्तर देने वाली महिलाओं को पुरस्कृत किया गया।
कार्यक्रम में सभी महिलाओं को शिव चालीसा व गर्भ गीता वितरित की गई। साथ ही इंडोनेशिया से मंगाए १०८ रुद्राक्ष का वितरण भी किया गया। नगर महिला संस्थापिका निर्मला कमल उपाध्याय द्वारा समाज के मंदिर निर्माण में 1 लाख 11 हजार 111 रूपए की घोषणा करने पर महिला सभा द्वारा सम्मानित किया गया। समापन पर महिलाओं के साथ सहभोज का आनंद लिया गया। आभार रीता तिवारी ने व्यक्त किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.