Logo
ब्रेकिंग
हेरिटेज ट्रेन चलाने का खेल!....वेबसाइट पर नो रूम व लंबी वेटिंग, ट्रैक पर ट्रेन चल रही पूरी खाली एक्सेस पेमेंट का टेरर...भुगतान के बाद स्टेबल की प्रकिया, अब वसूली की तैयारी एक्सेस पेमेंट का टेरर....रेलवे में बांट दिया अतिरिक्त पेमेंट, रिटायर्ड कर्मचारी के खाते में भी आता र... रक्तदान का पुण्य काम....पूर्व अध्यक्ष स्व. उमरावमल पुरोहित की याद में 55 यूनिट रक्तदान रेलवे डीजल शेड के एएमएम के खिलाफ महिला कर्मचारियों ने लगाया उत्पीड़न का आरोप ट्रेनों में चोरों की मौज....एक ही दिन में पांच ट्रेनों का निशाना, गहनें व रुपए से भरे बैग चोरी आज का एमएलए...सैलाना विधायक कमलेश्वर डोडियार पर आखिर प्रकरण दर्ज गौरवपूर्ण इतिहास....एआईआरएफ के नाम भारत सरकार ने डाक टिकट किया जारी मिनी मैराथन के दो हीरो...एथलीट जूलियस चाको व इंदु तिवारी की सफलता को किया सलाम वार्षिकोत्सव एवं बासंती काव्य समागम... इंद्रधनुषी छटाओं से सजी रचनाओं से श्रोता हुए मंत्रमुग्ध

मंच पर गूंजा ‘ये मेरा दिल प्यार का दीवाना’… झूम उठे श्रोता, बजी तालियां

-त्रिवेणी मेले में स्थानीय कलाकारों द्वारा रंगारंग ऑर्केस्ट्रा का आयोजन किया गया।

 

न्यूज़ जंक्शन-18
रतलाम। त्रिवेणी मेले में स्थानीय कलाकारों द्वारा रगारंग ऑर्केस्ट्रा का आयोजन श्रोताओं को लुभा गया। ये मेरा दिल प्यार का दीवाना सहित ड्यूएड व सोलो गानों की प्रस्तुति ने लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया।
कार्यक्रम की शुरुआत चंदन पाटीदार ने गणेश वंदना के साथ की। उन्होंने किशोर कुमार के गीत पेश किए।
सिंगर हर्षा परिहार ने लता मंगेशकर के गीत ‘दिल तो ही दिल दिल का ऐतबार क्या कीजे’, ‘वादा कर ले सजना’ जैसे कई गीत सुनाए।

पर्वत सिंह राठौर ने ‘खाई के पान बनारस वाला’, ‘उड़जा काले कावा’,’चाहिए थोड़ा प्यार’, जैसे नए व पुराने गीत सुनाए। वहीं सिंगर अल्फिया खान ने ‘ये मेरा दिल प्यार का दीवाना’, ‘लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो ना हो’ जैसे शानदार गीतों की प्रस्तुति दी।संचालन निलेश शर्मा ने किया।
मेले में श्रोताओं ने पुराने गीतों की फरमाइश भी की तथा सभी कलाकारों की ख़ूब सराहना की।
अंत में पर्वत सिंह राठौर द्वारा फरमाइशी गीत ‘भोले ओ भोले’ गा कर कार्यक्रम का समापन किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.